राजनीतिक

✍️अब इलाज के लिए 20 लाख रुपये तक की मिलेगी सुविधा,आमलोगों से जुड़े 10 बड़े फैसले पढ़िये ✍️

 
( RGH NEWS ). रायपुर। वर्तमान में लागू संजीवनी सहायता कोष का विस्तार करते हुए मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना शुरू करने का निर्णय लिया गया. योजना में मुख्यमंत्री के अनुमोदन से प्रति परिवार 5 लाख रुपए से अधिकतम 20 लाख रुपए तक के इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी.
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में शुक्रवार को मंत्रिपरिषद की बैठक में इस संबंध में निर्णय लिया गया. मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना में वे बीमारियां जो योजनांतर्गत शामिल नही है या हितग्राही का नाम सूची में नहीं है या नई योजना अंतर्गत बीमा कवर राशि इलाज हेतु पर्याप्त नही है, उसको शामिल किया गया है.

  • खनन प्रभावित लोगों के लिए आवास, दैनिक उपयोग के लिए आवश्यक सामग्री तथा महिलाओं एवं बच्चों के लिए वस्त्र आदि की उपलब्धता के लिए छत्तीसगढ़ जिला खनिज न्यास नियम-2015 में नया सेक्टर प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया। इसमें अन्य प्राथमिकता के क्षेत्र अंतर्गत प्राप्त होने वाली राशि में से 5 प्रतिशत अधिकतम राशि का उपयोग उपरोक्त कार्यो के लिए किया जा सकेगा।
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान रायपुर (एम्स) को नवा रायपुर, अटल नगर में निःशुल्क भूमि  आबंटन का निर्णय लिया गया। नया रायपुर डेव्लपमेंट अथॉरिटी (एनआरडीए) द्वारा सेक्टर-40 में आबंटित भूमि के संबंध में एम्स रायपुर से किए जाने वाले एम.ओ.यू. प्रारूप का अनुमोदन किया गया।
  • छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के पास उपलब्ध चावल का निराकरण राज्य और केन्द्र शासन द्वारा संचालित विभाग और संस्थाओं की विभिन्न योजनाओं में उपयोग करने का निर्णय लिया गया।
  • छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र विकास प्राधिकरण निधि नियम-2012 में आवश्यक संशोधन का अनुमोदन किया गया। इसमें नए कार्यो (शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण आदि) को सम्मिलित किया गया।
  • जेम एण्ड ज्वेलरी पार्क रायपुर शहर में स्थापित करने का निर्णय लिया गया ।
  • नंदनवन जंगल सफारी नवा रायपुर में प्रचलित प्रवेश शुल्क को आधा करने का निर्णय लिया गया। 12 वर्ष से कम और दिव्यांग लोगों के लिए निःशुल्क रहेगा।अब 18 साल से उपर वाले लोगों को एसी बस में घूमने पर 300 से बजाय 150 रुपया ही देना होगा, वहीं नान एसी बसों का किराया 200 रुपये से घटाकर 100 रुपये करने का निर्णय लिया गया है। वहीं 6 साल से लेकर 12 साल तक के बच्चों के लिए अब जंगल सफारी घूमने का किराया कम कर दिया गया है।एसी बसों में अब बच्चों को 100 रुपये से घटाकर 50 रुपये और नान एसी बसों में 50 रुपये से घटाकर 25 रुपये कर दिया गया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
x