बिजनेस

Gold Bond Scheme 2024 :सस्ता सोना खरीदने के लिए हो जाएं तैयार, सरकार कल से शुरू कर रही ये शानदार स्कीम

Gold Bond Scheme 2024: नई दिल्ली। गोल्ड ग्राहकों के लिए सरकार की ओर से बड़ी खुशखबरी… यदि आप सोना खरीदना चाहते हो या खरीदने की प्लानिंग कर रहे हैं तो आपके लिए ये बढ़ियां मौका है। आपको बता दें कि सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की चौथी किश्‍त लाने जा रही है। सरकार भारतीय रिजर्व बैंक कल यानी सोमवार 12 फरवरी से सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्ड जारी करेगी। सबसे बड़ी बात यह है कि ये पांच दिन तक खुला रहने वाला है।

​जानकारी के मुताबिक बता दें कि 16 फरवरी तक आप गोल्ड बॉन्ड में निवेश कर पाएंगे। वहीं जानकारों के मुताबिक सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्ड का रिटर्न शानदार रहा है। इसकी वजह से निवेशक बड़ी संख्या में इसमें निवेश करना चाह रहे हैं। भारत सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने वाले और डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वाले निवेशकों को अंकित मूल्य से 50 रुपए प्रति ग्राम की छूट देने का फैसला किया है।

Read more: Skin Care : स्वस्थ त्वचा के लिए भोजन में शामिल करे ये सब्जियां चेहरे पर आएगा निखार

जानें क्या है कीमत?

जानकारों के मुताबिक, सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्ड में एक ग्राम सोना आप 6,263 रुपए में खरीद सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन करने वाले और डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वाले निवेशकों को सरकार ने अंकित मूल्य से 50 रुपए प्रति ग्राम की छूट देने का फैसला किया है। इस तरह डिजिटल भुगतान करने वालों को गोल्ड बॉन्ड का इश्‍यू प्राइस 6,213 रुपए होगा।

सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्ड को अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों (छोटे वित्त बैंकों, भुगतान बैंकों और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), भारतीय निपटान निगम लिमिटेड (सीसीआईएल), नामित डाकघरों, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इंडिया लिमिटेड और बीएसई लिमिटेड के माध्यम से बेचा जाएगा।

सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्ड को अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों (छोटे वित्त बैंकों, भुगतान बैंकों और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (एसएचसीआईएल), भारतीय निपटान निगम लिमिटेड (सीसीआईएल), नामित डाकघरों, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज इंडिया लिमिटेड और बीएसई लिमिटेड के माध्यम से बेचा जाएगा।

पैसा डूबने का जोखिम नहीं

Gold Bond Scheme 2024: मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक बताया जा रहा है कि आरबीआई सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में बैंक की एफडी जैसे निवेश विकल्पों से बेहतर रिटर्न मिलता है। इसमें पैसा डूबने का जोखिम नहीं होता। इसी के साथ ही गोल्ड के बढ़ते भावों का निवेशकों को फायदा मिलता है। वहीं गोल्ड खरीद पर ब्याज भी दिया जाता है। अगर निवेशक बॉन्ड को मैच्योर होने तक रखते हैं तो मैच्योरिटी के समय होने वाली आय टैक्स फ्री होगी। बांड की मैच्योरिटी आठ साल में होती है।

Related Articles

Back to top button
x