*✍️SBI खरसिया के पास हुए 13 लाख रुपए लूट का खुलासा , मुख्य आरोपी ग्राम पंचायत अडभार का अध्यक्ष कार्तिक राम रात्रे, उसका पुत्र व रिश्तेदार सहित 3 आरोपी गिरफ्तार ✍️* -

*✍️SBI खरसिया के पास हुए 13 लाख रुपए लूट का खुलासा , मुख्य आरोपी ग्राम पंचायत अडभार का अध्यक्ष कार्तिक राम रात्रे, उसका पुत्र व रिश्तेदार सहित 3 आरोपी गिरफ्तार ✍️*

 
 
✅ *रायगढ़ जिले के SBI खरसिया के पास हुए 13 लाख रुपए लूट का पुलिस अधीक्षक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया खुलासा ……*
✅ *मुख्य आरोपी ग्राम पंचायत अडभार का अध्यक्ष कार्तिक राम रात्रे, उसका पुत्र व रिश्तेदार सहित 3 आरोपी गिरफ्तार*
✅ *लूट की रकम 13 लाख रुपए तथा घटना में प्रयुक्त स्कार्पियो वाहन, एक बाइक व मोबाइल आरोपियों से जप्त*
रायगढ़ । आज दिनांक 05.12.2019 को पुलिस अधीक्षक रायगढ़ श्री संतोष कुमार सिंह द्वारा दिनांक 03.12.2019 को SBI खरसिया बैंक के पास हुए लूट का खुलासा पुलिस कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर किया गया है ।
जानकारी के अनुसार थाना मालखरौदा जिला जांजगीर चांपा के ग्राम अडभार निवासी *कन्हैया राठौर जो ठेकेदार* है तथा नगर पंचायत अडभार में ठेकेदारी में कार्य कराता है, कन्हैया राठौर का SBI खरसिया में बैंक एकाउंट है । कन्हैया राठौर द्वारा दो सेल्फ चेक क्रमश: 06 लाख एवं 07 लाख रूपये का *ग्राम अडभार के अगतराम रात्रे* जो कन्हैया के ठेकेदारी में सहयोग करता है को *दिनांक 02.12.19 को* SBI खरसिया से आहरण कर रूपये लाने के लिये दिया था । अगतराम रात्रे ने उसी दिन चेक से रूपये निकालने जाने की जानकारी *उसके भाई कार्तिक राम रात्रे* को दिया । *कार्तिक राम रात्रे वर्तमान में ग्राम पंचायत अडभार का अध्यक्ष है*। कार्तिक राम गांव के *विकास देवागंन* को बैंक में लाईन लगकर चैक कैस करने के लिये अपने साथ चलने को बोले जो राजी होकर अपने बाईक से बैंक पहुंचा । कार्तिक राम रात्रे और अगतराम रात्रे दोनों स्कार्पियो वाहन से SBI बैंक खरसिया दिनांक 03.12.19 के दोपहर पहुंचे । तीनों एक साथ बैंक अंदर चेक केस कराने गये । बैंक में सेल्फ चेक से विकास ने *₹6 लाख तथा अगतराम ने ₹7 लाख* रूपये निकाले । विकास देवांगन 6 लाख रूपये ठेकेदार कन्हैया को देने के लिये अगतराम को देकर उसी समय बैंक में देकर चला गया । अगतराम 6 लाख रूपये को थैला में तथा 7 लाख को बैग में रखकर दोनों को पकड़कर दोपहर करीब 12:50 बजे बैंक से कार्तिकराम रात्रे के साथ निकाला, कार्तिकराम आगे-आगे तथा पीछे रूपयों को लेकर अगतराम आ रहा था कि बैंक से 40 मीटर गया ही था कि रोड़पर आने जाने वाली बाइक के बीच एक बाईक पर *दो नकाबपोश* व्यक्ति आये और अगतराम से रूपयों से भरा थैला और बैग लूटकर भाग गये । घटना की सूचना मिलते ही एस.डी.ओ.पी. खरसिया, थाना प्रभारी खरसिया एवं चौकी प्रभारी खरसिया अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे । एस.डी.ओ.पी. खरसिया घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को देते हुए पूरे थाना क्षेत्र में नाकेबंदी करवाएं वही रिपोर्टकर्ता अगतराम रात्रे पिता ननकीदाउ उम्र 42 साल साकिन अड़भार के रिपोर्ट पर थाना खरसिया (चौकी खरसिया) में अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध *अप.क्र. 517/19 धारा 392 भादंवि* का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया ।
घटना की सूचना पर पुलिस अधीक्षक रायगढ़ श्री संतोष कुमार सिंह द्वारा एसडीओपी खरसिया श्री पितांबर पटेल के नेतृत्व में थाना खरसिया, थाना छाल, चौकी खरसिया एवं सायबर सेल को माल मुल्जिम की पतासाजी के लिये निर्देशित कर एडडिशनल एसपी श्री अभिषेक वर्मा को मौके पर जाकर घटना की वस्तुस्थिति से अवगत कराने निर्देशित किए । पुलिस की टीम प्रार्थी, गवाहों से पूछताछ कर घटना की तस्दीकी के साथ उपलब्ध संसाधनों से माल मुल्जिम की पतासाजी कर रही थी, देर शाम रात तक बैंक से आरोपियों के भागने के रास्तों पर लगे सीसीटीवी फुटेज को निकाला गया । *कार्तिक राम पूछताछ में* पुलिस टीम को प्रार्थी से अलग आरोपियों के भागने का रास्ता बता रहा था जिस पर पुलिस को संदेह हुआ तथा कुछ सीसीटीवी कैमेरे के फुटेज में एक बाइक में दो नकाबपोश व्यक्ति दिखे जो पीड़ित/प्रार्थी अगतराम से लूटी हुई है थैला व बैग पकड़े दिख रहे थे । पीड़ित/प्रार्थी अगतराम व विकास देवांगन को भी फुटेज दिखाया गया जिन्होंने सीसीटीवी फुटेज में दिख रहे नकाबपोश व्यक्ति को *कार्तिक राम रात्रि के पुत्र विक्रम रात्रे* के रूप में पहचान किए जिस पर पुलिस टीम द्वारा *विक्रम रात्रे* को हिरासत में लिया गया और उससे पूछताछ की गई । विक्रम रात्रे ने अपने साले *चित्रसेन सतनामी निवासी तेलीकोट* के साथ उसके बड़े पिताजी अगतराम से रुपए लूट कर भागना बताया एवं घटना के साजिशकर्ता अपने पिता कार्तिक राम रात्रे को बताया । पुलिस टीम ने कार्तिक राम रात्रे से पूछताछ किया गया तो उसने अपनी साजिश से पर्दाफास कर बताया कि उसे ठेकेदार कन्हैया राठौर के सेल्फ चेक से काफी बड़ी रकम SBI खरसिया से निकाले जाने की जानकारी पूर्व से थी । उसने रूपये लूट करने की योजना में अपने पुत्र विक्रम रात्रे और तेलीकोट के चित्रसेन सतनामी को भी शामिल किया जिन्हें अपनी योजना बताया और पूर्व सुनियोजित तरीके से अपनी स्कार्पियो CG11 AM-3999 में स्वयं तथा बिना नम्बर ग्लैमर बाईक में बेटे विक्रम और चित्रसेन के साथ बैंक के बाहर लूट की तैयारी के साथ पहुंचे थे । जब अगतराम रूपये को थैला एवं बैग में लेकर बैंक से बाहर निकल रहा था तो कार्तिकराम काफी आगे-आगे तथा उनकी योजना से अंजान अगतराम रात्रे पीछे था जिससे बाईक में आकर विक्रम और चित्रसेन रूपये लूटकर भाग गये । उसी दरम्यािन कई और बाईक भी गुजरी जिन्हें भी लूट में शामिल थे समझकर अगतराम द्वारा दो बाईक में चार लोगों द्वारा घटना कारित करने की रिपोर्ट भूलवश दर्ज कराया । विक्रम रात्रे, अगतराम से रुपयों भरा थैला एवं बैग छीनकर ग्राम भाटा थाना मालखरोदा में अपने साढू भाई चेतन्य रात्रे के घर उनकी गैरमौजूदगी में बच्चों के सामने बैग व थैला छोड़कर चला गया कि बाद में लेने आऊंगा । खरसिया पुलिस द्वारा आरोपियों के अपराध कबूलनामे के बाद आरोपी विक्रम रात्रे के मेमोरेंडम पर *ग्लैमर बाईक बिना नम्बर तथा 13 लाख रूपये* बरामद कर जप्त किया गया है वहीं आरोपी कार्तिक राम रात्रे से स्कॉर्पियो *CG11 AM-3999 व एक मोबाइल* जप्त कर गिरफ्तार किया गया है ।
घटना का साजिशकर्ता *आरोपी (1) कार्तिक रात्रे पिता ननकी दाऊ रात्रे उम्र 40 वर्ष, उसका पुत्र आरोपी (2) विक्रम रात्रे पिता कार्तिक रात्रे 22 साल दोनों निवासी अडभार थाना मालखरौदा जिला जांजगीर चांपा एवं विक्रम का साला आरोपी (3) चित्रसेन सतनामी पिता बुद्धुराम सतनामी उम्र 37 साल निवासी तेलीकोट थाना खरसिया* को आज न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।
 

Leave a Comment