रायगढ़

अब आप घर बैठे ऐसे बना सकते हैं आयुष्मान कार्ड,11 लाख लोगों को मिलेगी राहत,रायगढ़ जिले में इतना करोड रुपए का मिल चुका है लाभ

Raigarh News: आयुष्मान योजना के पात्रों के लिए अब आयुष्मान कार्ड बनाने कहीं जाने की जरूरत नहीं होगी। अब घर बैठे मोबाइल व अन्य इंटरनेट साधनों से ऑनलाइन बना सकते हैं। आयुष्मान कार्ड बनाने च्वाइस सेंटर या अस्पतालों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। पोर्टल या राशन कार्ड से संबद्ध मोबाइल नंबर से लॉगिन कर वे अपना आयुष्मान कार्ड बना सकते हैं। केंद्र सरकार ने अपने इस पोर्टल को अपग्रेड करते हुए पात्रों को पहले अपने मोबाइल नंबर से वेबसाइट https:beneficiarynha .gov.in को लॉगिन कर पात्रता की जांच करनी होगी। आगे पात्रता होने पर दिए गए विकल्प अनुसार अपना आयुष्मान कार्ड या परिवार के नए सदस्यों का नाम जोड़ सकेंगे। दरअसल, जिले में 80 प्रतिशत लोग आयुष्मान कार्ड के लिए पात्र हैं। रायगढ़ जिले में 10 लाख 97 हजार 386 पात्र लोगों को आयुष्मान कार्ड बनाने का लक्ष्य है। अब तक 8 लाख 62 हजार 908 पात्र लोगों का कार्ड बन चुका है। अविभाजित रायगढ़ जिला में 2018 से अब तक शासकीय अस्पतालों में 2 लाख 68 हजार 384 लोगों आयुष्मान योजना के तहत लाभ लिया है।

आयुष्मान का लिमिट खत्म होने पर खूबचंद योजना से इलाज दरअसल, आयुष्मान योजना के तहत बीपीएल कार्ड धारियों को 5 लाख रुपए तक व अन्य को 50 हजार रुपए मुफ्त इलाज करा सकते हैं। लिमिट खत्म होने पर डॉ. खूबचंद योजना का भी लाभ सकेंगे। इस योजना के तहत 25 लाख रुपए की लिमिट है। पहले की तरह अब भी आयुष्मान कार्ड एटीएम कार्ड की तरह काम नहीं करेगा। इन पैनल अस्पतालों पात्रों के इलाज के लिए बीमारी अनुसार निर्धारित राशि ही निकाली जा सकेगी।

Read more: Raigarh News: अपेक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल मे 1 दिसंबर को आएंगे कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ सुमन मित्तल आप इन नंबरों पर कर सकते हैं अग्रिम पंजियन

Raigarh News: पहले भी थी यह सुविधा ^केंद्रीय स्वास्थ्य विभाग ने पोर्टल का अपग्रेड किया है। लोग घर बैठे ही आयुष्मान कार्ड बना सकते हैं और नए सदस्यों को जोड़ भी सकते हैं। यह सुविधा पहले ही शुरू हो चुका है। अब कुछ बदलाव किया गया है। पात्र हितग्राही मोबाइल में पोर्टल लॉगइन कर योजना का लाभ ले सकता है। लोगों को च्वाइस सेंटर और इन पैनल अस्पतालों में लंबी लाइन लगाने की जरूरत नहीं है। -डॉ. तिलेश दिवान, नोडल अधिकारी, आयुष्मान योजना

Related Articles

Back to top button
x