छत्तीसगढ़

IPS अफसर के माता-पिता और नानी की हादसे में मौत

भिलाई में हुए एक सड़क हादसे में लेह-लद्दाख में पदस्थ IPS अफसर पीडी नित्या के माता-पिता और नानी की मौत हो गई। जामुल पुलिस ने ट्रेलर को जब्त करते हुए तीनों शवों को लाल बहादुर अस्पताल सुपेला पहुंचाया। तीनों शवों को मर्चुरी में रखा गया है।

जामुल पुलिस के मुताबिक सूचना मिली थी कि जामुल-अहिरवारा रोड पर ढौर चौक के पास हादसा हुआ है। पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा कि एक ट्रेलर ने कार को सामने से टक्कर मार दी है। ट्रेलर चालक मौके से भाग चुका था। कार में तीन लोग बुरी तरह लहुलुहान हालत में थे। पुलिस ने उन्हें कार से बाहर निकाला और सुपेला अस्पताल भेजा।

फॉर्म हाउस से लौटते वक्त हादसा

घटना स्थल पहुंचे सत्य नारायण ने बताया कि कार उनके चचेरे भाई पी वेंकट रत्नम (65 साल) चला रहे थे। वो स्मृति नगर में रहते थे। मंगलवार को अपनी पत्नी पी शांति (60 साल) और 80 वर्षीय बुजुर्ग सास के साथ बेरला अपने फॉर्म हाउस गए थे। वहां वक्त गुजारने के बाद मंगलवार देर शाम कार नंबर CG 07 AS 4731 से वो अपने घर स्मृति नगर लौट रहे थे।

रात करीब 8 बजे वो जैसे ही ढौर चौक के पास पहुंचे, जामुल से अहिरवारा की तरफ जा रहे तेज रफ्तार ट्रेलर CG 07 BE 7002 ने कार को सामने से टक्कर मार दी।

कार में ही तीनों की मौत

ट्रेलर की टक्कर इतनी तेज थी कि कार का पूरा इंजन सामने से पिचक गया। कार में सवार तीनों लोगों की अंदर ही मौत हो गई। पुलिस ने बड़ी मुश्किल तीनों को कार से बाहर निकाला और लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल भिजवाया। इसके बाद दुर्घटनाग्रस्त कार को सड़क से हटाया गया। अस्पताल में डॉक्टर ने तीनों बुजुर्गों को मृत घोषित कर दिया।

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button
x