छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने गुरूदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर की पुण्यतिथि पर उन्हें किया नमन

रायपुर, 06 अगस्त 2023

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने विश्वविख्यात कवि, साहित्यकार, दार्शनिक गुरुदेव और भारत के राष्ट्रगान के रचयिता गुरूदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर की 07 अगस्त को पुण्यतिथि पर उन्हें नमन किया है। श्री बघेल ने गुरूदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर के योगदान को याद करते हुए कहा है कि गुरूदेव रवीन्द्रनाथ जी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने कई उपन्यास, निबंध, लघु कथाएं, नाटक और कई गाने लिखे। उन्होंने बांग्ला साहित्य के माध्यम से भारतीय सांस्कृतिक चेतना में नयी जान फंूक दी। उनके विश्वविख्यात महाकाव्य गीतांजलि के लिए उन्हें साहित्य के क्षेत्र में नोबल पुरस्कार दिया गया। वे नोबल पुरस्कार पाने वाले पहले एशियाई बने। उनके लिखे गीतों ने संगीतबद्ध होकर रविन्द्र संगीत की नई संस्कृति को जन्म दिया। उनकी लेखनी के व्यापक प्रभाव का ही परिणाम है कि उनकी रचनाएं भारत और बांग्लादेश का राष्ट्रगान बनीं। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि गुरूदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर का बहुमुखी व्यक्तित्व और कृतित्व अतुलनीय है।

Related Articles

Back to top button